यूनेस्को की ग्लोबल इनटैन्जिबल कल्चरल हेरिटेज सूची में शामिल हुआ कुंभ मेला

अन्य ख़बरें

 

 

योग के बाद अब कुंभ मेले ने संयुक्त राष्ट्र का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया हैण् यूनेस्को (UNESCO) ने भारत के लगने वाले हिंदुओं के इस पवित्र मेले को ग्लोबल इनटैन्जिबल कल्चरल हेरिटेज लिस्ट में जगह दी गई है|
गुरुवार को यूनेस्को ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी दुनिया के सबसे बड़े इस धार्मिक मेले का आयोजन हरिद्वार और इलाहाबाद में गंगा नदी के किनारेए उज्जैन में क्षिप्रा नदी के किनारे और नासिक में गोदावरी नदी के किनारे में आयोजित किया जाता है

 

https://twitter.com/UNESCO/status/938582497541029889/photo/1

 

इसका आयोजन प्रत्येक 12 साल में होता है यानी कुंभ मेला तीन.तीन साल के अंतराल से चारों स्थानों पर क्रमवार लगता है  इसमें करोड़ों की संख्या में लोग हिस्सा लेते हैं

यूनेस्को के अधीनस्थ संगठन इंटरगर्वनमेंटल कमिटी फोर द सेफगार्डिंग ऑफ इन्टेंजिबल कल्चरल हेरीटेज ने दक्षिण कोरिया के जेजू में हुए अपने 12वें सत्र में कुंभ मेले को श्मावनता के अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर की प्रतिनिधि सूचीश् में शामिल किया   चार दिसंबर से शुरू हुआ यह सत्र नौ दिसंबर तक चलेगा

 

कुंभ मेला को ग्लोबल इनटैन्जिबल कल्चरल हेरिटेज की सूची में शामिल किए जाने पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने खुशी जाहिर की है
उन्होंने ट्वीट कियाए श्श्हमारे लिए बेहद गौरव का पल है कि यूनेस्को ने कुंभ मेला को मानवता के अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के तौर पर जगह दी है   कुंभ मेला को धरती पर श्रद्धालुओं का सबसे बड़ा शांतिपूर्ण जमघट माना जाता हैए जिसमें जातिए पंथ या लिंग के भेदभाव के बिना लाखों की संख्या में लोग हिस्सा लेते हैं

सोर्स : आज तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *