गृह विभाग व सुरक्षा एजेंसी की जांच में पुष्टि होने के बाद केंद्र व राज्य सरकार अलर्ट

बिहार ख़बरें

 

मुजफ्फरपुर , अफगानिस्तान के चार नागरिक संदिग्ध रूप से शहर में रह रहे हैं। गृह विभाग व सुरक्षा एजेंसी की जांच में पुष्टि होने के बाद केंद्र व राज्य सरकार अलर्ट हो गई है। केंद्रीय गृह विभाग ने चारों अफगानियों के नाम जारी किए हैं। इनके ठहरने की जगह का भी पता चल गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि ये नियमित अंतराल पर शहर आते हैं। कुछ दिनों तक ठहर कर अज्ञात जगहों पर चले जाते हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट पर राज्य सरकार ने डीएम धर्मेंद्र सिंह व एसएसपी विवेक कुमार से इन अफगानियों व उसकी गतिविधियों की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

 

वीजा नियमों का भी उल्लंघन

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य के गृह विभाग के प्रधान सचिव को जानकारी दी कि असलम खान, अशरफ खान, आसिफ खान व मौसा खान वीजा नियमों का उल्लंघन कर मुजफ्फरपुर निगम क्षेत्र में कई वर्ष से रह रहे हैं। असलम मिठनपुरा थाना क्षेत्र, जबकि अशरफ, आसिफ और मौसा नगर थाना क्षेत्र स्थित किसी मकान में किराए पर रहते हैं। ये यहां नियमित रूप से आते हैं और कुछ दिन ठहर कर अंजान जगहों पर चले जाते हैं।

 

पैसे का काला धंधा भी

सुरक्षा एजेंसी की जांच में यह बात सामने आई कि ये सभी अवैध रूप से मनी लॉड्रिंग का धंधा करते हैं। उनकी गिरफ्त में गरीब मुस्लिम परिवार, छोटे दुकानदार व व्यवसायी आ रहे हैं। काफी अधिक दरों पर वे पैसा लगाते हैं। इन लोगों के अन्य गतिविधियों में भी शामिल होने की बात कही जा रही है।

 

पटना से भी जुड़ रहे तार

सुरक्षा एजेंसी ने चारों के मोबाइल लोकेशन को पकड़ा है। तीन मोबाइल नंबर जारी किए गए हैं। इसमें एक नंबर पटना के गांधी मैदान थाना के एक व्यक्ति के नाम से है। इस नंबर से मुजफ्फरपुर लोकेशन के एक मोबाइल नंबर से लगातार बात होने की पुष्टि हुई है। यह नंबर पटना के कदमकुआं थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति के नाम से जारी किया गया है। इस नंबर से एक फेसबुक एकाउंट भी खोला गया है।

 

सुरक्षा एजेंसी ने इस नंबर के पटना के अलावा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, ओडिशा व कोलकाता सर्किल में सक्रिय होने की बात कही है। गांधी मैदान थाना क्षेत्र के ही उक्त व्यक्ति के नाम से जारी दूसरा नंबर सुरक्षा एजेंसी के रडार पर आया है। इस नंबर से ही अफगानिस्तान के एक नंबर पर लगातार बात होती रहती है।

 

छह अफगानिस्तानी नंबर भी रडार पर

एजेंसी ने छह ऐसे अफगानिस्तानी नंबर को पकड़ा है जिससे पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति के नाम से जारी मोबाइल नंबर पर बात होती है।

आभार : जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *