25 लाख मांगी गई थी फिरौती

बिहार ख़बरें

बिहार में बिगड़ती कानून व्यवस्था के बीच राजधानी पटना में एक व्यापारी के बेटे की किडनैप कर हत्या करने की सनसनीखेज वारदात सामने आई है परिवार वालों ने पहले तो 14 वर्षीय रौनक की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस को जब पता चला कि रौनक का किडनैप किया गया है तो फौरन कार्रवाई करते हुए पुलिस ने किडनैपर को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन रौनक की जान नहीं बचाई जा सकी

पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान किडनैपर ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया किडनैपर से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने रौनक का शव बरामद कर लिया है पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस किडनैपिंग की घटना में विक्की के साथ तीन से चार लोग और शामिल थे जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है

घटना राजधानी पटना के कुम्हरार स्थित चाणक्य नगर इलाके की है पुलिस ने बताया कि गुरुवार को अपराधियों ने रौनक को अगवा कर लिया था और उसके बाद उसकी हत्या कर दी रौनक का शव उसी के घर के पास के एक दुकान से बरामद किया गया

जानकारी के अनुसार नौवीं कक्षा में पढ़ने वाला रौनक बुधवार की सुबह स्कूल जाने के लिए अपने घर से निकला था तभी अपराधियों ने उसे घर के बाहर से ही अगवा कर लिया रौनक की गुमशुदगी की खबर उसकी बड़ी बहन ने घरवालों को दी थी

रौनक की बड़ी बहन ने बताया कि वह अपने भाई के साथ स्कूल बस का इंतजार कर रही थी इसी दौरान उसे याद आया कि वह एक जरूरी किताब घर पर ही भूल गई है और इसके लिए उसने रौनक को वापस घर भेजा और किताब लाने को कहा मगर वह वापस नहीं आया काफी देर तक जब रौनक नहीं लौटा तो उसकी बहन ने परिवार वालों को इस बात की जानकारी दी

किडनैपिंग की घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने प्रॉपर्टी डीलर का काम करने वाले रौनक के पिता सुधीर कुमार को फोन कर उनके बेटे की किडनैपिंग की जानकारी दी और 25 लाख रुपये की फिरौती मांगी घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया

पटना पुलिस के आला अधिकारी रौनक की खोजबीन में लग गए रौनक की बरामदगी के लिए पुलिस ने पटना के कई इलाकों में छापेमारी की और उस दौरान आज सुबह विक्की नाम के एक अपहरणकर्ता को गिरफ्तार किया

विक्की ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया कि रौनक के किडनैपिंग के तुरंत बाद ही उन लोगों ने उसकी हत्या कर दी थी और उसके शव को उसके घर के पास के एक दुकान में फेंक दिया था जिस दुकान में रौनक के शव को छुपाया गया था उसका नाम शुभम श्रृंगार स्टोर है

गहन पूछताछ के बाद यह बात सामने आई कि जिस दुकान में रौनक के शव को छिपाया गया था वह दुकान दरअसल विक्की की ही है यह जानकारी सामने आने के बाद विक्की के साथ पुलिस उसके दुकान पर पहुंची और वहां से रौनक के शव को बरामद किया

सूत्रों के मुताबिक जिस मोबाइल नंबर से रौनक के पिता को फिरौती के लिए फोन आया था पुलिस उस नंबर को सर्विलांस पर लेकर जांच कर रही थी और इसी के आधार पर वह आज सुबह विक्की तक पहुंची जिसके बाद इस पूरे घटनाक्रम का खुलासा हुआ
source : aajtak

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *